पर्यटन के लिए लाजवाब जगह है विराजपेट Virajpet Coorg

virajpet
दूसरों के साथ साझा करें

Virajpet Coorg

पर्यटन के लिए लाजवाब जगह है विराजपेट

-नेहा मेहरोत्रा

आपने कर्नाटक के कूर्ग जिले का नाम तो सुना होगा।virajpet इसे भारत का स्कॉटलैंड भी कहते हैं। और इसी के पास है विराजपेट। ये छोटा सा शहर है पर पर्यटन की दृष्टि से बहुत रोचक और आकर्षक जगह है। कर्नाटक के पश्चिम घाट पर स्थित विराजपेट यूं तो कॉफी और काली मिर्च की उत्पादकता के लिए दुनियाभर में मशहूर है, पर यहां के रमणीय स्थल भी टूरिस्टों को बहुत आकर्षित करते हैं। यहां के साइट सीइंग अद्भुत है। विराजपेट की यात्रा के दौरान आप कई पर्यटक स्थानों का लुत्फ उठा सकते हैं, जिनमें नागरहोल नेशनल पार्क, इरुप्पा फॉल्स, चेलवरा फॉल्स,  चोमाकुंड, इग्गुथप्पा मंदिर, नालकनाद पैलेस आदि प्रमुख हैं।

virajpet

अगर आप रोजाना की दिनचर्या से हट कर कुछ नया देखना व महसूस करना चाहते हैं तो हरे-भरे वनों, खूबसूरत वादियों और पहाडि़यों के बीच घूमने से बेहतर और कोई विकल्प नहीं हो सकता। शांत वातावरण, स्वच्छ हवा से लहराते कॉफी और चाय के बागान और पहाड़ों से घिरा विराजपेट एक ऐसा ही टूरिस्ट स्टेशन है। यहां की प्राकृतिक छटा देख कर लौटने का मन ही नहीं करता। हर मौसम में पर्यटक यहां आते हैं, लेकिन जुलाई से नवंबर वाला मौसम पर्यटकों को अधिक आकर्षित करता है। यहां ट्रैकिंग, गोल्फ और रिवर राफ्टिंग का लुत्फ हर कोई उठाना चाहता है। अप्रैल व मई में ये पूरा इलाका कॉफी की खुशबू से महकता है। मई के शुरुआत तक यहां मौसम सुहाना बना रहता है। मानसून के सीजन में यहां भारी बारिश होती है। जुलाई से सितंबर के महीनों में यहां के झरनों का भरपूर आनंद लिया जा सकता है।

virajpet
virajpet

 

यहां पर ठहरने के लिए आपको छोटे से लेकर मझोले रिसॉर्ट तक मिल जाते हैं। लेकिन अगर बच्चों के साथ घूमने जा रहे है तो यहां बना क्लब महिंद्रा का रिसोर्ट काफी अच्छा विकल्प है, क्योंकि इसमें आपके लिए और बच्चों को लिए दोनों के लिए ही कई एडवेंचर्स एक्टिविटीज की व्यवस्था है।

वैसे यहां पर आए तो आप कूर्ग और मडिकैरी घूमने का भी लत्फ जरूर उठाइए। बहुत लोगों को नहीं पता होगा कि कूर्ग में भारत में तिब्बतियों की सबसे बड़ी बस्ती बायलाकुपे में है। यहां की नामद्रोलिंग मोनेस्ट्री में 40 फुट ऊंची बौद्ध प्रतिमाएं देखने को मिल जाएंगी।

virajpet

विराजपेट मडिकेरी से 30 किलोमीटर दूर है। मंगलौर से कूर्ग की दूरी है 135 किलोमीटर।यहां से मडिकेरी तक की सीधी बसें मिल जाती हैं।मडिकेरी कूर्ग ज़ले का हेडक्वॉर्टर है।मंगलौर से बस में मडिकेरी पहुंचने में साढ़े 4 घंटे का वक़्त लगता है। करीब इतना ही वक़्त मैसूर से मडिकेरी पहुंचने में लगता है।

 

www.vichaar.online देश के एक उभरते हुए वेब पेज में से एक हैं और हम विश्वास रखते हैं विचारों की अभिवक्ति में । हम मानते हैं की विचारों को रोका नहीं जा सकता अच्छे विचार समाज का मार्गदर्शक होतें हैं।

आप अपनी राय/विचार , सुझाव, आपके लेख और ख़बरें हमें vichaar.oniline@gmail.com पर भेज सकते हैं । आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं। https://www.facebook.com/www.vichaar.online/

You Might Also Like

One Reply to “पर्यटन के लिए लाजवाब जगह है विराजपेट Virajpet Coorg”

  1. I am genuinely glad to read this weblog posts which consists of lots of valuable information, thanks for providing these kinds of information. – Mohammed

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *