दूसरों के साथ साझा करें

हिन्दुओं को आतंकवादी बताने की एक और कोशिश

आतंकवाद का कोई धर्म नहीं होता ये कहने में जो लोग गर्व महसूस करते है वो लोग आज शायद चुप है जब कुछ विद्यार्थियों ने हिन्दुओं को आतंकवादी बताने की में कोई शर्म महसूस नहीं की

ऐसा ही वाकया सामने आया दिल्ली के दिल CONNAUGHT PLACE में, जब कुछ लोग हाथ में पोस्टर लिए हिंदुत्व को आतंकवाद से तुलना कर रहे थे

आउटलुक ने इस वीडियो को ट्वीट किया

पोस्टर लिए लोग अफ़राजुल खान की निर्मम हत्या को हिन्दू आतंकवाद से जोड़ने की कोशिश कर रहे थे. अब सवाल ये उठता है की अभिव्यक्ति की आजादी के नाम पर अब कुछ भी बोला जायेगा और किसी भी धर्म को निशाना बनाया जायेगा वो भी तब, जब इस देश का कोई भी नागरिक इस तरह की हत्या का समर्थन नहीं करता

वीडियो को देखने से साफ़ पता लग रहा है की कुछ लोग धर्म विशेष को टारगेट कर रहे थे जिसे देखते हुए एक व्यक्ति ने उन्हें रोका और पोस्टर हटाने को कहा और कुछ ही समय में पुलिस ने पहुँच कर मामले को शांत कराया।

अफ़राजुल खान मालदा, पश्चिम बंगाल के होने के कारण मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने ३००००० की मदद की घोषणा की थी

ये खबर आउटलुक के ट्वीट और वीडियो पर आधारित है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *